Narmada Manav

मध्यप्रदेश में भी अब शहरों के नाम बदलने का सिलसिला शुरू हो गया है. शुक्रवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने होशंगाबाद का नाम बदलने की घोषणा की. कुछ समय पहले योगी आदित्यनाथ ने हैदराबाद का नाम बदलकर भाग्यनगर किए जाने के ऐलान किया था.

मध्यप्रदेश में भी अब शहरों के नाम बदलने का सिलसिला शुरू हो गया है. शुक्रवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एलान किया कि होशंगाबाद जिले का नाम अब नर्मदापुरम होगा. शुक्रवार को नर्मदा जयंती मनाई जा रही है. इस मौके पर सीएम ने यह घोषणा की. नर्मदा नदी प्रदेश की जीवन रेखा है. पिछले कई सालों से होशंगाबाद का नाम बदलने की मांग चल रही थी. होशंगाबाद जिला मध्य प्रदेश का एक प्रमुख शहर है.
इस जिले की स्थापना मांडू (मालवा) के द्वितीय राजा सुल्तान हुशंगशाह गौरी द्वारा पन्द्रहवी शताब्दी के शुरूआत में की गई थी. यह नर्मदा नदी के किनारे पर स्थित है और यहां सतपुड़ा पर्वत भी स्थित है. पिछले साल दिसंबर में प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने होशंगाबाद का नाम बदलने की मांग की थी. रामेश्वर शर्मा ने कहा कि कब तक लुटेरे हुशंगशाह के नाम से होशंगाबाद को पहचाना जाएगा. तब उन्होंने मांग की थी कि होशंगाबाद का नाम बदलकर नर्मदापुर किया जाना चाहिए. रामेश्वर शर्मा ने कहा था कि जिस लुटेरे ने हमारे मठ-मंदिर तोड़े उसके नाम पर किसी शहर का नाम रखा जाए यह उन्हें मंजूर नहीं हैं. उन्होंने कहा था कि यहां से मां नर्मदा बहती हैं जिनके दर्शन मात्र से ही दुख कष्ट दूर हो जाते हैं. इसलिए होशंगाबाद का नामकरण किया जाना चाहिए और नर्मदापुर ही होना चाहिए.

उत्तर प्रदेश में भी बदले गए नाम

बीजेपी शासित राज्यों में नाम बदलने का सिलसिला कोई नया नहीं है. इससे पहले उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार ने इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज कर दिया. इसके अलावा मुगलसराय स्टेशन का नाम बदलकर पंडित दीनदयाल उपाध्याय कर दिया गया है. इसी कड़ी में अब मध्य प्रदेश में भी होशंगाबाद का नाम बदलकर नर्मदापुरम करने का ऐलान किया गया है. हैदराबाद नगर निकाय चुनाव में बीजेपी के मैराथन प्रचार अभियान करे दौरान योगी आदित्यनाथ ने हैदराबाद का नाम बदलकर भाग्यनगर किए जाने के ऐलान किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here