Narmada Manav

देश में बेकाबू हो चुके कोरोना वायरस को देखते हुए केंद्र सरकार ने 18 वर्ष से ऊपर के सभी लोगों को वैक्सीन लगाने की अनुमति दे दी है।

देशभर में कोरोना के प्रकोप को देखते हुए केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने 1 मई से 18 वर्ष के ऊपर सभी लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाने की अनुमति दे दी है। सरकार के इस फैसले के बाद 18 वर्ष के ऊपर के सभी लोग अपने नजदीकी वैक्सीनेशन केंद्र में जाकर कोरोना का टीका लगवा सकते हैं।

केंद्र सरकार द्वारा जारी आदेश के मुताबिक कोविड-19 टीकाकरण अभियान के तीसरे चरण के तहत 1 मई से सभी वयस्कों को टीका लगाया जाएगा। सरकार ने तीसरे चरण को लचीला बनाते हुए त्वरित चरण बताया है। गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने ऐसे समय में यह फैसला लिया है जब विपक्ष सहित स्वास्थ्य विशेषज्ञ कई दिनों से यह मांग कर रहे हैं कि वैक्सीन का निर्यात रोककर देश में उम्र सीमा खत्म कर देना चाहिए।

केंद्र सरकार ने उम्र सीमा घटाने के साथ ही वैक्सीन निर्माता कंपनियों को लेकर भी बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने कहा है कि फेज तीन के टीकाकरण में वैक्सीन निर्माण करने वाली कंपनियों को अपने स्टॉक का 50 फीसदी सप्लाई केंद्र सरकार को करना होगा।वहीं बाकी के 50 फीसदी वैक्सीन वे राज्य सरकारों को दे सकती है तथा और ओपन मार्केट में बेच सकती हैं।

केंद्र ने बताया है कि अपने हिस्से की 50 फीसदी वैक्सीन वह प्राथमिकता के आधार पर उन राज्यों को देगी जिन्हें इसकी सबसे ज्यादा जरूरत है। इसके लिए राज्यों का कोटा तय किया जाएगा। सरकार के इस फैसले के बाद राज्य सीधे वैक्सीन निर्माता कंपनी से डोज खरीद सकते हैं। बता दें कि कोरोना टीकाकरण अभियान के तहत देश में सबसे पहले फ्रंटलाइन वर्कर्स को टीका दिया गया था। इसके बाद 60 साल से ऊपर और फिर 45 साल के ऊपर लोगों को टीका लेने की अनुमति दी गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here