Narmada Manav

बुधवार को प्रदेश में कोरोना के 244 नए मामले, इंदौर में 139 तो भोपाल में 70 मामले सामने आए

कोरोना टीकाकरण के दौर में एक बाद फिर देश और प्रदेश पर कोरोना का खतरा बढ़ गया है। बुधवार को मध्यप्रदेश में कोरोना के 244 नए मामले दर्ज किए गए। राज्य भर में कुल तीन लोगों की कोरोना से मौत हो गई। हालांकि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना समीक्षा बैठक में यह स्पष्ट कर दिया है कि सरकार का अभी लॉकडाउन लगाने का कोई इरादा नहीं है।

बुधवार को कोरोना के सबसे ज़्यादा 139 मामले इंदौर में दर्ज किए गए। राजधानी भोपाल में भी बुधवार को कोरोना के 70 नए मरीज़ मिले। जबलपुर में 15 और महाराष्ट्र से सटे बैतूल में 14 नए मामले सामने आए। मुख्यमंत्री ने बैठक के दौरान इन जगहों पर विशेष सावधानी बरतने के निर्देश दिए। कोरोना के कहर को देखते हुए पिछली बैठक में प्रदेश में मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है।  

मेले स्थगितमजदूरों को गांव में ही काम दिलाने के आदेश 

कोरोना के बढ़ते कहर को देखते हुए बैतूल, छिंदवाड़ा, पचमढ़ी में लगने वाले तमाम मेलों को स्थगित कर दिया गया है। इसके साथ ही प्रदेश के सीमावर्ती जिलों से मजदूरी के लिए महाराष्ट्र जाने वाले मजदूरों को गांवों में ही मनरेगा के तहत रोजगार दिलाने के निर्देश दिए गए हैं। 

दरअसल मध्यप्रदेश के साथ साथ पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र सहित देश के कई हिस्सों में कोरोना का कहर जारी है। महाराष्ट्र के अमरावती में लॉकडाउन लागू किया जा चुका है। वहीं पुणे में भी नाइट कर्फ्यू लगाया जा चुका है। महाराष्ट्र में बढ़ते हुए कोरोना के संक्रमण को देखते हुए मध्यप्रदेश सरकार भी सचेत हो है है।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here