Narmada Manav

निजी अस्पतालों में वैक्सीन की एक डोज़ के लिए देने होंगे 250 रुपए, यानी 500 में हो पाएगा एक व्यक्ति का टीकाकरण, हालाँकि सरकारी अस्पतालों में अब भी मुफ़्त लगेगा टीका

भोपाल। मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कोरोना वैक्सीन को लेकर बीजेपी पर करारा वार किया है। कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया है कि मुफ्त टीकाकरण का बीजेपी का वादा भी बीजेपी का जुमला ही निकला। उन्होंने कहा कि बुजुर्गों से भी 500 रुपये लिए जाएंगे, यह सुनकर बड़ा आश्चर्य हुआ।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्वीट किया, ‘कुछ माह पूर्व जब चुनावी दौर चल रहा था, कोरोना की वैक्सीन आयी भी नहीं थी, तब भाजपा के तमाम नेता देश में, प्रदेश में आम आदमी को फ़्री वैक्सीन लगाने के बड़े-बड़े दावे कर रहे थे। आज यह जानकर कि देश में बुजुर्गों व गंभीर बीमारी वाले लोगों को भी वैक्सीन के दो डोज़ के लिए 500 रुपये चुकाने होंगे, बड़ा ही आश्चर्य हुआ ? आम आदमी का तो अभी नंबर ही नहीं आया है? वैक्सीन भी जुमला बनी?’

https://twitter.com/OfficeOfKNath/status/1365922424680718336?ref_src=twsrc%5Etfw%7Ctwcamp%5Etweetembed%7Ctwterm%5E1365922424680718336%7Ctwgr%5E%7Ctwcon%5Es1_c10&ref_url=https%3A%2F%2Fchambalpatrika.com%2F2021%2F03%2F01%2Fkamalnath-about-corona-vaccine%2F

कोरोना महामारी के दौरान हुए चुनाव में बीजेपी ने मुफ्त कोरोना वैक्सीन लगवाने का एलान किया था। बिहार में चुनाव के पहले बीजेपी ने अपने मेनिफेस्टो में भी यह जिक्र किया था। लेकिन विवाद बढ़ने के बाद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने एलान किया कि देशभर में मुफ्त वैक्सीन दी जाएगी। लेकिन अब सरकार अपने इस वादे से मुकर गई है। केंद्र सरकार ने कहा है कि निजी अस्पतालों में टीके की एक डोज़ के लिए 250 रुपए लगेंगे। यानी एक इंसान के टीकाकरण पर 500 रुपए खर्च होंगे।

सरकार द्वारा वैक्सीन को प्राइवेट और निजी में बांटने का कारण लोगों को समझ नहीं आ रहा है। इसे लेकर सरकार की मंशा पर गंभीर सवाल खड़े हो रहे हैं। लोगों को डर है कि कहीं वैक्सीन का हाल भी आम दवाओं की तरह ही न हो जाए, जिनकी सरकारी अस्पतालों में हमेशा किल्लत ही रहती है। अगर ऐसा हुआ तो आम लोग निजी अस्पतालों से ही टीके खरीदने पर मजबूर हो जाएंगे। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here