Narmada Manav


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऐक्टर अक्षय कुमार के साथ हुई अनौपचारिक इंटरव्यू में दिल के राज़ खोले। पीएम ने अपने बचपन की यादों से लेकर गुस्से पर नियंत्रण, पारिवारिक रिश्तों और जिंदगी के फलसफे पर दिल खोलकर बातें की। पीएम ने कहा कि राजनीति में आने और प्रधानमंत्री बनने का सपना उन्होंने नहीं देखा था। उन्होंने कहा, ‘मैं ऐसे परिवार से आता हूं कि मुझे छोटी-मोटी कोई नौकरी मिल जाती तो भी मेरी मां सबको गुड़ खिला देती।

मैं कभी-कभी आश्चयर्य करता हूं कि देश ने मुझे इतना प्यार कैसे दिया।’ पीएम ने अपने पढ़ने के शौक और सेना में जाने के सवाल पर कहा, ‘बचपन में मुझे किताबें पढ़ने का शौक था गांव की लाइब्रेरी में जाकर पढ़ता था। मैं सेना के जवानों को देखता था कि चीन युद्ध में सैनिकों का बड़ा सत्कार करते हैं। मैंने पढ़ा गुजरात में सैनिक स्कूल में दाखिल हो सकते हैं।

हमें तो अंग्रेजी आती नहीं थी तो हमारे मोहल्ले में स्कूल के प्रिंसिपल के पास चला गया। फिर रामकृष्ण मिशन में चला गया और ये सारे नए-नए अनुभव होने लगा, हिमालय में भटका बहुत घूमा देखा कुछ कन्फ्यूजन भी था। मन में सवाल कुछ करता फिर जवाब देता और ऐसे भटकते-भटकते यहां चला आया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here