Narmada Manav

नई दिल्ली। एक तरफ जहां दुनिया के कई देशों में लोगों को कोरोना की वैक्सीन मिलने की प्रक्रिया शुरू होने वाली है, वहीं दूसरी तरफ भारत को भी इसका इंतजार है. जल्द ही भारत के लोगों को कोरोना वैक्सीन मिलने की उम्मीद की जा रही है. इस बीच केंद्र सरकार ने कोरोना वैक्सीन को लेकर दिशा-निर्देश जारी किए हैं. गाइडलाइंस में ये बताया गया है कि भारत में किसको और कैसे वैक्सीन दी जाएगी.

केंद्र सरकार का कहना है कि कोरोना वायरस वैक्सीन देने की प्रक्रिया चुनाव की तरह होगी. हर वैक्सीन साइट पर 5 वैक्सीन ऑफिसर होंगे. इनमें एक सुरक्षाकर्मी, एक अधिकारी वेटिंग, एक वैक्सीनेशन और एक निगरानी के लिए होगा.

लोगों तक वैक्सीन पहुंचाने के लिए केंद्र सरकार ने एक्सपर्ट ग्रुप बनाया है. इस ग्रुप को नेशनल एक्सपर्ट ग्रुप ऑन वैक्सीन एडमिनिस्ट्रेशन फॉर कोविड नाम दिया गया है. एक्सपर्ट ग्रुप भारत में वैक्सीन आने पर राज्यों को गाइड करेगा.

केंद्र सरकार के दिशा-निर्देशों के मुताबिक, भारत में कोरोना वैक्सीन आने पर हर सेशन में पहले स्वास्थ्य कर्मचारियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीन दी जाएगी. हर सेशन में इनके लिए अलग से वैक्सिनेशन साइट फिक्स की जाएगी. इसके अलावा हाई रिस्क वाले लोगों के लिए भी अलग से मोबाइल साइट और टीमें बनाई जाएंगी.

कोरोना के चलते जितने इंतजाम किए जा सकते हैं, उसमें 1 घंटे में 13 से 14 लोगों को ही वैक्सीन दी जा सकती है. इसके लिए केंद्र सरकार कम्युनिटी हॉल और मेकशिफ्ट टेंट भी बनवा सकती है. जिन लोगों को भी वैक्सीन दी जाएगी उन्हें वैक्सीन लगने के बाद 30 मिनट तक निगरानी में रखा जाएगा, जिससे किसी भी तरह के साइड इफेक्ट को देखा जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here