Narmada Manav

बुदनी। सीहाेर जिले के बुदनी में लाेकसेवा गारंटी अधिनियम काे ताक पर रख कर अधिकारी काम कर रहे है। शाहगंज टप्पा के गांव हथनाैरा के किसान रामभराेस पिता रमेश कुमार ने तीन साल पहले लाेक सेवा केद्र में अावेदन कर अपनी जमीन का सीमांकन करने का अावेदन दिया। सीमांकन अादेश के डेढ साल सीहाेर कलेक्टर के हतक्षेप के बाद अप्रैल 2019 मेंे किसान का सीमांकन किया गया। इसके बाद अभी तक किसान का सीमांकन काे नायाब तहसीलदार ने दर्ज नहीं किया है। इसके चलते किसान अपनी जमीन के सीमांकन के लिए भटक रहा है। बुधवार काे  किसान ने मामले में परेशान हाेकर सीएम हेल्पलाइन 10423163 में इसकी शिकायत की है। किसान रामभराेस ने बताया की हल्का नंबर 19 में खसरा 130 का सीमांकन के लिए वह तीन साल से परेशान है। पर नायाब तहसीलदार सुनवाई करने की जगह किसान काे भटका रहे है। मामले में परेशान किसान ने कलेक्टर सीहाेर अाैर एसडीएम बुदनी काे भी शिकायत की है। 
 लाेकसेवा केंद्र में अावेदन करने के बाद सीमांकन काे डिस्पाेजल में दर्ज करने पर स्वंय सीमांकन दर्ज करना राजस्व विभाग की जबावदारी है। अानंद झेरवार लाेकसेवा प्रबंधक
 मामले की जानकारी नायाब तहसीलदार से ली जाएगी, वरुण अवस्थी एसडीएम बुदनी
 किसान काे लाेकसेवा केंद्र में अावेदन के बाद हुए सीमांकन काे दर्ज कराने के लिए हमारे पास अगल से अावेदन करना हाेगा। लखन साेनानिया नायाब तहसीलदार शाहगंज  किसान का सीमांकन  लाेकसेवा केंद्र के अादेश पर राजस्व प्रकरण अारसीएम 154/ अ 12/ 17-18 के अाधार पर अार अाई शैलू , हर्षवर्धन परमार, चैनमेन कमल अाैर काेटवार बालमुकुंद के सामने गांव के लाेगाे  अाैर पडाेसी किसानाें के सामने करवाने के बाद नायाब तहसीलदार काे प्रतिवेदन दिया था।  दिनेश साहू पटवारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here