Narmada Manav

सीहोर। ग्राम हथनोरा,परियोजना बुदनी के आंगनवाड़ी भवन में राष्ट्रीय पोषण माह 2020 मनाया गया जिसमें 2 बच्चों का अन्नप्राशन किया गया । कार्यकर्ता ने सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क तथा सैनिटाइजर के साथ महिलाओं को पोषण परामर्श दिया गया महिलाओं को जीवन चक्र के 1000 दिवस में पोषण का महत्व समझाया गया

सेक्टर सुपरवाइजर मुमताज खान ने बताया कि हमारे भोजन में दाले, अनाज, फल, सब्जियां,दूध वाले पदार्थ घी,तेल आदि शामिल होने चाहिए कुपोषण की शुरुआत किसी भी अवस्था से हो सकती है परंतु 6 माह के बाद यह अधिकतर हो जाती है क्योंकि उस समय बच्चे की जरूरतों के अनुरूप उसे भोजन नहीं मिल पाता 6 माह के बाद ऊपरी आहार की शुरुआत के पश्चात भोजन में विविधता,बारंबारता तथा पौष्टिकता तीनों होनी चाहिए जिससे बच्चे के शरीर के साथ-साथ दिमाग का भी ठीक प्रकार से विकास हो पाए वर्तमान कोविड-19 की परिस्थिति को देखते हुए शरीर की सभी प्रकार की बीमारियों से बचाने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता अच्छी होना आवश्यक है और इसकी आदत हमें बच्चों में अभी से डालनी होगी ताकि हमारे बच्चे भावी बीमारियों से लड़ पाए और कुपोषण को जड से खत्म कर पाएँगे इसलिए यह सीधा पोषण से जुड़ा हुआ मसला है इसमें परिवार के पुरूष सदस्य भी शामिल होना आवश्यक है तभी हम अपने इस लक्ष्य की प्राप्ति कर सकते हैं आंगनवाड़ी कार्यकर्ता कोशलिया आंगनवाड़ी सहायिका इनदरा तथा 6 माह से लेकर 2 वर्ष तक के बच्चों की माताएं महिलाएं उपस्थित थी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here