Narmada Manav

*- इंदौर में कोरोना के संक्रमण से अब तक 30 लोगों की मृत्यु हो गई है

– इंदौर में सबसे ज्यादा 249 पॉजिटिव केस सामने आए हैं

भोपाल. मध्य प्रदेश में कोरोना महामारी से पीड़ित मरीजों की संख्या बढ़कर 500 हो गई है. इनमें से अब तक 40 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौत हो चुकी है. इंदौर में सबसे ज्यादा 249 पॉजिटिव केस सामने आए हैं और अब तक 30 मरीजों की मौत हो चुकी है, जिसमें दो डॉक्‍टर भी शामिल हैं. भोपाल में 131 कोरोना पीड़ित मरीजों में से एक की मौत हो चुकी है.

वहीं, मुरैना में अभी तक 14 पॉजिटिव केस सामने आए हैं. उज्जैन में 16 पॉजिटिव मरीज में से 5 की मौत हो चुकी है. जबलपुर में कोरोना पीड़ित मरीजों की संख्या 10 है और 5 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं. इसके अलावा ग्वालियर में कोरोना पीड़ित मरीजों की संख्या 6 है और 2 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं. शिवपुरी में 2 पॉजिटिव केस सामने आए हैं, जबकि दोनों मरीज स्वस्थ हो चुके हैं.

खरगोन में 14 कोरोना पॉजिटिव मरीजों में से दो की मौत हो गई है. इसी तरह छिंदवाड़ा में भी 4 कोरोना पॉजिटिव मरीजों में से एक ने दम तोड़ दिया है. बड़वानी में 14 कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए हैं. इसके अलावा विदिशा में 13, बैतूल में 1, होशंगाबाद में 10, श्योपुर में 2, रायसेन में 1, खंडवा में 5, धार में 1, शाजापुर में 1, मंदसौर में 1, रतलाम में 1 और सागर में 1 पॉजिटिव केस सामने आए हैं. देवास में 3 कोरोना पॉजिटिव मरीजों में से एक की मौत हो गई है.

देश भर में संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 7447

गौरतलब है कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को कहा कि पिछले 24 घंटे में देश भर में कोविड-19 के 1035 नए मामले सामने आए हैं और 40 लोगों की मौत हुई है. इस तरह, देश भर में संक्रमित लोगों की कुल संख्या बढ़ कर 7,447 पहुंच गई और अब तक 239 मौत दर्ज की गई है.

देश भर में कुल 586 अस्पताल कोविड-19 के इलाज के लिए चिह्नित

स्वास्थ्य मंत्रालय में संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि एक लाख से अधिक आइसोलेशन बिस्तरों और 11,500 आईसीयू बिस्तरों के साथ देश भर में कुल 586 अस्पतालों को कोविड-19 के इलाज के लिए विशेष हॉस्पिटल के रूप में चिह्नित किया गया है. सरकार ने देश में कोरोना वायरस संक्रमण वाले क्षेत्र (हॉटस्पॉट) की पहचान के लिए पहले से ही एहतियाती कदम उठा रखे हैं. लॉकडाउन और संक्रमण वाले इलाके को सील करने जैसे अन्य उपायों के अभाव में 15 अप्रैल तक देश में कोरोना वायरस संक्रमण के 8.2 लाख से अधिक मामले होते.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here