Narmada Manav

कोट्टयम।पर्यटन और संस्कृति मंत्री सुश्री उषा ठाकुर इन दिनों केरल के प्रवास पर हैं। इस दौरान वे जिला कोट्टयम के होटल लेकसोंग मे ठहरी हुई थी, जहाँ उन्होंने रिस्पांसिबल टूरिज्म के अंतर्गत मध्य प्रदेश के इंदौरी पोहा(मालवा की महक) को केरल में पहचान दिलाने के उद्देश्य से केरल के साथियों एवं होटल स्टाफ को पोहा बनाने की विधि से अवगत कराते हुए उन्हें स्वयं पोहा बनाकर खिलाया। उन्होंने कहा की -"हमारे प्रदेश के व्यंजनों की देश भर मे एक अलग ही पहचान हैं, इसी मे शामिल है इंदौरी पोहा। जब भी किसी दूसरे शहर या प्रदेश के व्यक्ति इंदौर आतें हैं तो इंदौरी पोहे का स्वाद जरूर लेते हैं। इसलिए आज जब इंदौर की याद आई तो यह लोकप्रिय व्यंजन यहाँ सभी को बनाकर खिलाया।" प्रदेश के व्यंजनों का स्वाद हमारे प्रदेश वासियों की भावनाओ को व्यक्त करता है, इसी स्वाद को आज मंत्री सुश्री ठाकुर ने केरल के लोगो के साथ साझा किया और प्रदेश के प्रसिद्ध इंदौरी पोहों की केरल मे ब्रांडिंग का एक अनूठा प्रयास किया। मंत्री सुश्री ठाकुर ने रविवार दोपहर होटल लेकसांग से चेक आउट कर केरल के एक गाँव के स्थानीय परिवार के साथ रहने के लिये पहुंची ताकि वहाँ की संस्कृति तथा परिवेश से परिचित हो सकें। उल्लेखनीय है कि विगत दिवस मध्यप्रदेश की पर्यटन मंत्री सुश्री उषा ठाकुर के नेतृत्व मे केरल पर्यटन और मध्यप्रदेश पर्यटन के बीच महत्वपूर्ण करार सम्पन्न हुआ था। पर्यटन की दृष्टि से बेहद महत्वपूर्ण इस करार से दोनों ही प्रदेशों में पारस्परिक पर्यटन का चहुँमुखी विकास हेतु नींव स्थापित की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here