Narmada Manav

ध्य प्रदेश के कई जिलों में भारी बारिश के चलते हालात बिगड़ गए हैं. कई जिलों में लोग अब भी बाढ़ग्रस्त इलाकों में फंसे हुए हैं. वहीं, सिहोर जिले के निचले हिस्सों में फंसे लोगों का सेना की तरफ से रेस्क्यू किया जा रहा है. अब तक सोमलवाड़ा गांव से 20-25 लोगों को एयरलिफ्ट किया जा चुका है.

सीहोर कलेक्टर के मुताबिक सोमलवाड़ा गांव में फंसे हुए 20-25 लोगों को पहली खेप में रेस्क्यू किया गया है. इनमें बुजुर्ग, महिला और बच्चे शामिल थे. रेस्क्यू के बाद हेलीकॉप्टर को शाहगंज मंडी प्रांगण में उतारा गया था. फिलहाल सभी लोग सुरक्षित हैं. वहीं सेना का हेलीकॉप्टर गांव में फंसे अन्य लोगों को निकालने के लिए दोबारा सोमलवाड़ा पहुंच गया है.

बाढ़ग्रस्त इलाकों की निगरानी सीएम शिवराज द्वारा लगातार की जा रही है. इसी को लेकर सीएम ने आज 10 बजे अवास पर अफसरों की बैठक भी बुलाई थी. इस बैठक में रेस्क्यू, फंसे हुए लोगों और बाढ़ग्रस्त इलाकों की जानकारी भी मांगी गई. लोगों का रेस्क्यू किया जा सके, इसलिए सीएम ने सेना से 5 हेलीकॉप्टर मांगे थे. इनमें तीन हेलीकॉप्टर टेक ऑफ कर चुके हैं और दो की आने की तैयारी है.

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक बारिश के वजह से प्रदेश के 411 गांव प्रभावित हुए हैं. नर्मदा के बढ़ते जलस्तर ने 1999 का भी रिकॉर्ड तोड़ दिया है. वहीं, रात भर चले रेस्क्यू ऑपरेशन में लगभग 8 हजार लोगों को सुरक्षित निकाला जा चुका है. इन सभी लोगों को राहत कैंपो में ठहराया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here