Narmada Manav


नईदिल्ली
उत्तराखंड के हरिद्वार में महाकुंभ (Mahakumbh 2021)की तैयारियां जोरों पर हैं.कोरोना काल में होने जा रहे महाकुंभ के दौरान सुरक्षा गाइडलाइंस का सख्ती से पालन कराया जाएगा. कुंभ स्नान के लिए आने वाले श्रद्धालुओं के लिए मेला पास जारी किए जाएंगे. बिना पास के किसी को कुंभ मेले में एंट्री नहीं मिलेगी.हरिद्वार के डीएम सी. रविशंकर ने बताया कि कुंभ मेले में एंट्री के लिए श्रद्धालुओं को अपना रजिस्ट्रेशन कराना जरूरी होगा. जिसके तहत आरटीपीसीआर रिपोर्ट, मेडिकल सर्टिफिकेट और पहचान पत्र को संबंधित पोर्टल (वेबसाइट) पर अपलोड करना होगा. रजिस्ट्रेशन के बाद ही कुंभ मेला पास जारी किया जाएगा.उन्होंने बताया कि कुंभ ड्यूटी में तैनात कर्मचारियों के कोरोना वैक्सीनेशन के लिए 70 हजार टीके की डिमांड की गई है. कुंभ मेला ड्यूटी में तैनात कर्मचारियों का वैक्सीनेशन सोमवार से शुरू किया जाएगा.
रजिस्ट्रेशन के लिए पोर्टल तैयार
कुंभ स्नान के लिए आने वाले श्रद्धालुओं के रजिस्ट्रेशन के लिए haridwarkumbhmela2021.com पर जाना होगा. जहां आरटीपीसीआर रिपोर्ट, मेडिकल प्रमाणपत्र और पहचान पत्र अपलोड करना होगा.इसके बाद ही ऑनलाइन पास जारी किए जाएंगे. बता दें कि कोरोना के मद्देनजर केंद्र सरकार की ओर से जारी एसओपी के बाद मेला प्रशासन की ओर से श्रद्धालुओं के रजिस्‍ट्रेशन के लिए पोर्टल तैयार किया गया है.बता दें कि केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय की तरफ से जारी स्टैंडर्ट ऑपरेटिंग प्रोसीजर (SOP) में कहा गया है कि कुंभ में आने वाले श्रद्धालुओं को अनिवार्य रूप से 72 घंटे पहले की कोविड नेगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी. इसके साथ ही कुंभ के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरूरी है. चेहरे पर मास्क पहनना, सैनिटाइजेशन सहित सभी प्रकार के कोविड प्रोटोकॉल का पालन अनिवार्य होगा.
कुंभ मेले में होंगे 4 शाही स्नान
महाकुंभ में 4 शाही स्नान होंगे.पहला 11 मार्च (महाशिवरात्रि), दूसरा 12 अप्रैल (सोमवती अमावस्या), तीसरा 14 अप्रैल (बैसाखी कुंभ) और चौथा शाही स्नान 27 अप्रैल (चैत्र पूर्णिमा) को होगा. जिसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के पहुंचने की संभावना है.
msnews network

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here