Narmada Manav

भोपाल अच्छे तरीके से ब्रश करना केवल बच्चों को ही नहीं बड़ों के लिए महत्वपूर्ण है। क्योंकि, दांतों की देखरेख हर उम्र में सही तरीके से करनी चाहिए। आमतौर पर, ज़्यादातर लोग दिन में 2 बार अपने दांतों को ब्रश करते हैं। लेकिन, अगर आपको लगता है कि अपने दांतों को ज़ोर से ब्रश करके आप दांतों में फंसे भोजन के सभी कण और कीटाणुओं को साफ कर देंगे, तो आपको इस बारे में दोबारा सोचने की ज़रूरत है। जी हां अपने दांतों पर ताकत लगाने से आपका फायदा कम और नुकसान ज्यादा हो सकता है। कैसे? आइए इस पर ही चर्चा करते हैं
अच्छी ओरल हेल्थ के लिए ब्रशिंग की मदद ली जाती है। दांतों को ब्रश करके हम उन पर जमा प्लैक और गंदगी की सफाई कर सकते हैं। इसी तरह, दांतों में बैक्टेरिया और कैविटीज़ की सफाई करना भी ब्रशिंग की मदद से आसान हो जाता है। इसीलिए, बच्चों को बचपन से ही ब्रश करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है।

*दांतों को ब्रश करते समय बहुत ताकत लगाकर ब्रश न करें*

आपके अपने दांतों पर बहुत ज़्यादा ताकत लगाकर ब्रश करने से आपकी ओरल हेल्थ में कोई सुधार नहीं होनेवाला है। इसी तरह दांतों को ज़्यादा समय तक ब्रश करना भी अच्छा नहीं होता। दांतों पर ताकत लगाने से आपका टूथ एनेमल और आपके मसूड़ों के ऊतकों या टिश्यूज़ को भी नुकसान हो सकता है, खासकर यदि आप अपने दांत को किसी सख्त टूथब्रश से साफ कर रहे हैं।

*बहुत कम या बहुत ज़्यादा समय तक ब्रश करना*
अपने दांतों को कब तक ब्रश करना चाहिए? इस बात को लेकर अक्सर लोग उलझन में रहते हैं। डॉ. संजेश मीणा कहते हैं कि, अपने दांतों को दिनभर में 2 बार और 2-3 मिनट से ज़्यादा कभी ब्रश ना करें।

*ब्रशिंग कैंसे करें*

अक्सर, लोगों को पता ही नहीं होता कि दांतों को ब्रश करने का सही तरीका क्या है। इसीलिए, समस्या की शुरुआत यहीं से हो जाती है। ऐसे में क्या करना चाहिए ध्यान दीजिए, मुंह को 4 हिस्सों में विभाजित करें और प्रत्येक हिस्से में हर तरफ, हर कोने में सभी सतहों को साफ करने के लिए कम से कम 30 सेकंड तक ब्रश करें। दांत की बाहरी, आंतरिक और चबाने वाली सतहों को ब्रश करें। ब्रश ऊपर नीचे की दिशा में ही करें लेकिन एक बात याद रखें, ऊपर से नीचे ब्रश करते हुए दांतों और मसूड़ों को एकसाथ ब्रश न करें, क्योंकि यह आपके मसूड़ों को नुकसान पहुंचा सकता है और दांतों पर खरोंच और रगड़ लग सकती है। इसके साथ ही अपनी जीभ को भी ज़रूर साफ़ करें, क्योंकि जीभ के कोनों और दरारों में बैक्टेरिया पनप सकता है इसलिए जीभ की सफ़ाई भी जरुर करें !
उपरोक्त सभी बातों का यदि आप ध्यान रखेंगे तो आपके दाँत हमेशा स्वस्थ बने रहेंगे और आप हमेशा मुस्कुराते रहेंगे !
डॉ संजेश मीणा
जूनियर रेजिडेंट
दंत विभाग
गाँधी मेडिकल कालेज भोपाल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here