Narmada Manav

खंडवा ।कन्या महाविद्यालय खंडवा में समाजशास्त्र विभाग एवं निक्की वेलफेयर सोशल सर्विस सोसायटी व सृजन युवा मंडल के संयुक्त तत्वावधान में गैर सरकारी संगठनों में रोजगार के अवसर विषय पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसमें विभिन्न गैर सरकारी संगठनों के पदाधिकारियों ने छात्राओं को एनजीओ के क्षेत्र में स्वरोजगार के अवसर के बारे में जानकारी प्रदान की। स्पंदन समाज सेवा समिति से सीमा प्रकाश द्वारा खालवा एवं खकनार ब्लाक में कुपोषण की समस्या को दूर करने हेतु किए गए प्रयासों की जानकारी से छात्राओं को अवगत कराया गया। स्पंदन समाज सेवा समिति के ही प्रकाश जी ने बताया की सोशल वर्क का फील्ड नवाचार का फील्ड है। उन्होंने मानसिक बीमारी का क्षेत्र, पर्यावरण का क्षेत्र एवं महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में कार्य करने की आवश्यकता पर बल दिया। नवजीवन चिल्ड्रन होम की सिस्टर इंदु ने बताया कि हर बच्चा जमीन में दबे बीज के समान है उनकी प्रतिभा को प्रस्फुटित करना हमारा काम है ।अभिजीत वेलफेयर सोसाइटी की शर्मिष्ठा तोमर ने कहा कि अपनी स्वयं सिद्धा स्वयं बने। पिरामल फाउंडेशन के मुकेश ने बताया कि पिरामल फाउंडेशन 2006 से शिक्षा, स्वास्थ्य और पोषण के क्षेत्र में कार्य कर रहा है उन्होंने छात्राओं को पिरामल फाउंडेशन द्वारा प्रायोजित फेलोशिप की जानकारी दी तथा बताया कि इस क्षेत्र में छात्राएं किस तरह से कार्य कर सकती हैं आगे बढ़ सकती हैं एवं रोजगार हासिल कर सकती हैं। सृजन युवा मंडल की कुमारी निवेदिता तिवारी एवं निक्की वेलफेयर सोशल सर्विस सोसायटी की कुमारी निकिता नागोरी ने छात्राओं को एनजीओ में इंटर्नशिप करने के लिए प्रेरित किया उन्होंने बताया की एम.ए समाजशास्त्र की छात्राएं एवं एमएसडब्ल्यू करने वाली छात्राएं इस क्षेत्र का चयन कर सकती हैं। संस्था की प्राचार्य डॉ गीताली सेनगुप्ता ने नई शिक्षा नीति के अंतर्गत सामुदायिक जुड़ाव एवं इंटर्नशिप में एनजीओ के महत्त्व एवं भूमिका को समझाया। इस अवसर पर संस्था की ओर से पूर्व इंटर्न छात्राओं को प्रमाण पत्र भी प्रदान किए गए। कार्यक्रम का संचालन महाविद्यालय की छात्रा नेहा एवं साक्षी द्वारा किया गया। समाजशास्त्र विभाग की डॉ एस गायकवाड़ ने कार्यशाला के उद्देश्य पर प्रकाश डाला एवं आभार डॉ मीना जैन ने किया। कार्यशाला में समाजशास्त्र विभाग की गीता मेहरा एवं अनुराधा चौरसिया, संस्था से सोमनाथ, रोशनी, गरिमा, इंटर्न्शिप की छात्राओं ममता, अंशिता, शिवानी, कविता आदि ने कार्यशाला में सहभागिता निभाई। इस अवसर पर महाविद्यालय की बड़ी संख्या में छात्राएं उपस्थित रही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here